img
img

‘Chanda Chor Gang ka mukhiya’ (ring leader of Chanda Chor Gang) very well knows what all has happened in Punjab and the reasons for their devastating defeat

Posted

March 19, 2017

Punjab Kesri’ underlines our cause by calling the corrupt members of Aam Aadmi Party as ‘Chanda Chor Gang’.

 

Here is an article which was published in the Punjab Kesri exposing the unethical distribution of tickets and biased selection of members for the upcoming MCD elections. It is also about the petition that has been filed demanding Kejriwal to remove Sanjay Singh and Durgesh Pathak from the party. As they were incharge and held responsibilities of the Punjab elections from the party, they should have resigned themselves after their devastating defeat in Punjab.

“आम आदमी पार्टी के ऑस्ट्रेलिया के एक कार्यकत्र्ता गुरप्रीत गिल ने वैब पोर्टल पर पटीशन डालकर दिल्ली के पार्टी नेता संजय सिंह और दुर्गेश पाठक को पंजाब की लीडरशिप से बदलने की मांग की है। वैब पोर्टल पर उनकी पटीशन के बाद डॉ. मनीष रायजादा ने पंजाब में ‘आप’ की हार पर गुस्सा निकालते हुए यहां तक कहा है कि हमारे पंजाब के वालंटियर कितने भोले हैं और चंदा चोर गैंग के मुखिया को सब पता है कि पंजाब में क्या हुआ है।

याचिका पर 631 लोगों ने दस्तखत किए हैं। गुरप्रीत गिल इस याचिका को अरविंद केजरीवाल को सौंपेंगे। याचिका में लिखा गया है कि पंजाब में संजय सिंह और दुर्गेश पाठक पार्टी का नेतृत्व कर रहे थे। हार की जिम्मेदारी भी उनकी ही है, उन्हें अपने पद से इस्तीफे दे देने चाहिए थे लेकिन ऐसा नहीं हुआ इसलिए हम केजरीवाल को यह याचिका सौंपने जा रहे हैं। उन्हें पंजाब और विदेशों में ‘आप’ के वालंटियर्स की आवाज सुननी चाहिए। हमें पंजाब में दिल्ली के लीडर नहीं चाहिएं।

इस याचिका को साइन करने वालों में यू.के., आस्ट्रेलिया, कनाडा, न्यूजीलैंड और भारत समेत दुनिया भर के ‘आप’ समर्थक शामिल हैं। आस्ट्रेलिया से भवित सिंह ने लिखा है कि संजय सिंह ने पार्टी की पंजाब और पूरे भारत में उम्मीदों को तोड़ा है। ईमानदार उम्मीदवारों को नजरअंदाज कर दागी, अयोग्य और भ्रष्ट को टिकट दिए गए। ‘आप’ का भविष्य बचाना है तो संजय को निकाल देना चाहिए। शिखर सिंगला सान फ्रांसिस्को (अमरका) ने लिखा कि उन्होंने पैसे लेकर टिकटें बेचीं। संग्राम बीबी रे (भारत) ने लिखा कि पंजाब में कई काबिल वर्कर थे जो चार्ज ले सकते थे। हिमांशु (नई दिल्ली) ने लिखा कि पार्टी ने पुराने वालंटियर्स को भुलाकर दूसरी पाॢटयों से आए नेताओं को प्राथमिकता दी।

टिकटें बेचने के लगते रहे आरोप
पार्टी छोड़ चुके कई नेताओं का कहना है कि चुनावों से पहले ‘आप’ की दिल्ली से आई लीडरशिप पर पैसे लेकर टिकटें बेचने के आरोप लगते रहे हैं। दिल्ली से 50 लोगों से ज्यादा की ऑब्जर्वर टीम पंजाब में आई थी। पंजाब को 13 जोनों में बांट कर सर्वे हुआ था। ऑब्जर्वर टीम ने जो सर्वे रिपोर्ट तैयार की उसकी कोई क्रॉस चैकिंग नहीं की गई। उनका कहना है कि पार्टी वर्कर मेहनत करते रहे लेकिन टिकट वितरण के दौरान उन्हें किसी ने पूछा ही नहीं। जो लोग चमचागिरी करते थे उन्हें आगे लाया गया। इससे दुखी होकर कई नेता पार्टी को छोड़ कर दूसरी पाॢटयों में चले गए। उनका कहना है कि जिन लोगों को इग्रोर किया गया वे अपने हलके की आवाज थे। उन्हें आत्मसम्मान मिलना तो दूर उनसे वार्ता तक नहीं की गई। उनका कहना है कि अकाली दल में जो नेता नाराज थे उन्हें मुख्यमंत्री बादल खुद मनाने गए लेकिन ‘आप’ में ऐसा नहीं हुआ जिस कारण पार्टी चुनाव हार गई।

पहले ढांचा तैयार करवाया, फिर खुड्डेलाइन लगाया
सियासी माहिरों के अनुसार साल 2014 में हुए लोकसभा चुनावों में पंजाब की 4 लोकसभा सीटों पर भारी जीत के साथ प्रदेश में राजनीति में आई आम आदमी पार्टी की विधानसभा चुनावों में हार के बाद ‘आप’ वर्करों में गुस्सा फूटने लगा है। सियासी माहिरों का कहना है कि करीब 3 साल पहले ही अस्तित्व में आई आम आदमी पार्टी को जब दिल्ली विधानसभा चुनावों में जीत प्राप्त हुई तो पार्टी संयोजक और दूसरे बड़े नेताओं ने पार्टी का विस्तार करने के लिए पंजाब का सर्वे किया।

पंजाब में सुच्चा सिंह छोटेपुर, एडवोकेट नवीन जैरथ, यामिनी गोमर सहित कुछ और नेता जो पार्टी को पंजाब में स्पोक्समैन नजर आते थे उनके साथ संबंध कायम करके पंजाब में पार्टी का स्ट्रक्चर तैयार करवाया। लोकसभा चुनावों में जीत हासिल होने से अति उत्साहित पार्टी ने पंजाब में नशे को मुद्दा बनाकर अपनी जड़ें कायम करनी शुरू कर दीं। विधानसभा चुनावों से पहले जब दिल्ली की लीडरशिप ने देखा कि पार्टी के पंजाब में पांव अच्छी तरह से जम गए हैं तो पार्टी को प्रदेश में खड़ा करने वालों को खुड्डेलाइन लगाना शुरू कर दिया गया।  ”

 

Recent Posts

  • New Delhi, April 14, 2017: Today, When Dr. Munish Raizada along with...April 18, 2017
  • New Delhi,18 April 2017:   Chanda Bandh Satyagraha (www.nolistnodonation.com ) against...April 18, 2017
  • New Delhi, 09 April,17:  A story on the Chanda Bandh...April 10, 2017
  • April 8, 2017, New Delhi: For the upcoming MCD Elections 2017,...April 10, 2017
  • Chanda Bandh Satyagraha has asked Kejriwal to make a promise...April 7, 2017
  • New Delhi, 1 April,17: On 1 April, 17 at 11:00...April 4, 2017
  • New Delhi, 31 March,17: Chanda Bandh Satyagraha has launched its...April 4, 2017
  • New Delhi, 30 March,2017: The 'Chanda Bandh Satyagraha' team has...March 30, 2017
  • On March 26, 2017 (Sunday), I went to be a...March 29, 2017
  • New Delhi, March 26, 2017 Chanda Bandh Satyagraha successfully organized a...March 27, 2017
  • For the upcoming 'Municipal Corporation Elections' in Delhi, Aam Aadmi...March 21, 2017
  • 'Punjab Kesri' underlines our cause by calling the corrupt members...March 19, 2017
  • Mahesh Dhanuk, a well-renowned AAP volunteer working for the ‘Aam...March 19, 2017
  • Take a Pledge NOT to donate to Aam Aadmi Party...March 5, 2017
  • New Delhi,  8 January,2017: Association for Democratic Reforms (ADR) last...March 5, 2017
  • New Delhi, Feb 24, 2017 Dr. Munish Raizada, convener of Chanda...March 4, 2017
  • New Delhi, Jan 9, 2017: Dr. Munish Raizada- a suspended...March 4, 2017
  • More than 2000 people have signed the pledge today in...March 4, 2017
  • by Munish Raizada New Delhi, December 26, 2016: Aam Aadmi...March 4, 2017
  • New Delhi, Dec 29, 2016: Munish Kumar Raizada, a medical doctor,...March 4, 2017
  • Dr. Munish Raizada from Chicago USA wrote an open letter...March 4, 2017
  • *After successful launch of the Chanda Bandh Satyagraha signature drive...March 4, 2017
  • *After successful launch of the Chanda Bandh Satyagraha (No List...February 24, 2017
  • *After successful launch of the Chanda Bandh Satyagraha (No List...February 24, 2017
  • The 'Chanda Bandh Satyagrah' struggles to restore financial probity in...February 24, 2017
  • Upkar Singh Sandhu is infamous as a relentless turncoat who...February 24, 2017
  • ‘Chanda Bandh Satyagraha’ had gone to his residence to present...February 24, 2017
  • New Delhi, Feb 07, 2017:  As per a report published...February 24, 2017
  • New Delhi, Feb 6, 2017: Chanda Bandh Satyagraha ( www.nolistnodonation.com...February 24, 2017
  • After successful campaigning in Punjab in the month of January,...February 24, 2017
  • Dr. Munish Raizada, convener of ‘Chanda Bandh Satyagrah’ along with...February 24, 2017